बिहार से ‘पेफी – फिट इंडिया फ्रीडम रन’ में 25 हजार से ज्यादा लोगों ने लिया हिस्सा

कोरोना महामारी के इस समय में भारत सरकार ने लोगों को उनके रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत करने हेतु एक जागरूकता मुहिम ‘फिट इंडिया’ के अन्तर्गत “फिट इंडिया फ्रीडम रन” आरंभ किया गया है।इस मुहिम के अन्तर्गत लोगों को शारीरिक खेलों अथवा गतिविधियों में शामिल होकर अपनी प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए प्रेरित किया जा रहा है।

इस अभियान का आगाज़ 29 अगस्त 2019 को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने दिल्ली स्थित इंदिरा गांधी स्टेडियम से किया था जो कि योग तथा स्वच्छ भारत अभियान के बाद तीसरी सबसे बड़ी मुहिम है।इसी मुहिम के अन्तर्गत राष्ट्रीय खेल मंत्री किरन रिजिजू ने इस अभियान को “फिट इंडिया फ्रीडम रन” के माध्यम से लोगों तक पहुंचाने की मुहिम चलाई है।यह कार्यक्रम 15 अगस्त को शुरू की गई जो 2अक्टूबर तक संचालित होगी। 

इस अभियान को लोगों तक पहुंचाने के लिए इसके अन्तर्गत खेल मंत्रालय तथा फिजिकल एजुकेशन फाउंडेशन ऑफ इंडिया (पेफी),मिनिस्ट्री ऑफ यूथ अफेयर एंड स्पोर्ट्स द्वारा मान्यता प्राप्त खेल संस्था संवर्धक द्वारा सम्मिलित रूप से खेल दिवस 29 अगस्त से 7 सितम्बर 2020 तक “पेफि फिट इंडिया फ्रीडम रन” का आरम्भ किया गया।जिसमें भारतीय पेफी के राष्ट्रीय सचिव डॉ० पीयूष जैन तथा इस कार्यक्रम के राष्ट्रीय संयोजक डॉ० तरुण शर्मा ने अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया।

तरुण शर्मा ने कहा कि इस मुहिम को सफल बनाने हेतु प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की मुहिम “डिजिटल इंडिया” तथा “वोकल फॉर लोकल” अभियान में सहभागिता निभाने वाले शॉपव्यू. इन की मदद ली गई जिससे इस कार्यक्रम को तकनीकी तौर पर सफलता हासिल करने में महतत्वपूर्ण मदद मिली।

फ्रीडम रन मुहिम में विभिन्न संस्थानों, संस्कृतियों तथा अपनी भाषा के अनुसार अपनी थीम के चुनाव की छूट दी गई है।इस मुहिम के राष्ट्रीय मीडिया इंचार्ज डॉ० शरद कुमार शर्मा ने कहा कि पेफि द्वारा रखी गई थीम ‘भाग के देखो अच्छा लगेगा’ के अन्तर्गत कश्मीर से कन्याकुमारी तक के लोग इस फ्रीडम रन मुहिम में शामिल होकर अपने विडियो तथा फोटो को पेफि को टैग कर सोशल मीडिया पर साझा किया।

बता दें कि पेफि बिहार की थीम ‘जहां हो जैसे हो – जब हो – तब दौडो़ या टहलो’ रखी गई, जिसके तहत बड़ी संख्या में लोग अपनी गली,कमरे,छतों तथा अपने मुहल्ले में दौड़कर इस मुहिम का हिस्सा बने।10 दिनों तक चले इस अभियान में पेफि ने अपने सभी राज्य चैप्टर से लाखों लोगों को जोड़ा। जिसमें बिहार चैप्टर के संयोजक कुमार आदित्य ने बड़ी संख्या में बिहार के लोगों को इस मुहिम से जुड़ने के लिए प्रेरित किया।पेफि के बिहार राज्य संयोजक कुमार आदित्य ने कहा कि बिहार के सभी 38 जिलों से ऑनलाइन माध्यम से लगभग 500 से ज्यादा तथा 20 हजार से ज्यादा लोगों ने ऑफलाइन पंजीयन करा कुल 25 हजार लोगों ने इस मुहिम में हिस्सा लिया।

बिहार के लोगों ने उत्साह पूर्वक इस अभियान से जुड़कर अपनी उपस्थिति दर्ज कराई।मुजफ्फरपुर के सांसद अजय निषाद ने व्यायाम करते हुए अपनी एक विडियो सोशल मीडिया पर साझा करते हुए लोगों को इस अभियान से जुड़ने के लिए प्रेरित किया।

कुमार आदित्य ने जानकारी दी कि इस अभियान में हिस्सा लेने वाले प्रत्येक प्रतिभागी को भारत सरकार के द्वारा मान्यताप्राप्त फिट इंडिया फ्रीडम रन का ई- प्रमाणपत्र प्रदान किया जाएगा।ये प्रमाण पत्र विभिन्न राज्यों में चरणबद्ध तरीके से वितरित किया जाएगा।बिहार के लोग अपना प्रमाणपत्र 11 सितंबर से पीफी के वेबसाइट www.pefindia.org से लेे सकेंगे।

पेफि राज्य संयोजक कुमार आदित्य ने इस मुहिम कि सफलता का श्रेय तकनीकी विशेषज्ञ कुमार सब्यसांची,गौरव आनंद तथा जिला चैप्टर के सचिव,को ऑर्डिनेटर,पत्रकारों,जिला विद्यालयों तथा विभिन्न खेल संघों को दिया।

पटना चैप्टर के संयोजक राजीव रंजन,राजेश कुमार एवम् उनके समूह के शिक्षक – सह – खेल प्रभारी गौरी शंकर,भोला थापा, संदीप कुमार तथा एनसीसी अधिकारी डॉ ० अरुण दयाल ने इस अभियान में अपना महत्वपूर्ण योगदान दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here