मस्जिद के पांच एकड़ जमीन पर अस्पताल का हो निर्माण – मुनव्वर राणा

English.newsnationtv.com

उर्दू शायरी से सबके दिलों तक पहुंचने वाले मशहूर शायर मुनव्वर राणा ने न्यायिक तौर पर उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा अयोध्या में धनीपुर गांव में दिए गए 5 एकड़ भूमि पर मस्जिद की जगह भगवान राम के पिता राजा दशरथ के नाम पर अस्पताल बनाए जाने की मांग की है। साथ ही प्रधानमंत्री को पत्र लिख कर यह गुजारिश की है कि शिया और सुन्नी जैसे संस्थाओं को खत्म किया जाए और मुसलमानों के लिए एक अलग बोर्ड को स्थापित किया जाए।

English.newsnationtv.com

  • प्रधानमंत्री को लिखा पत्र

मुनव्वर राणा ने 8 अगस्त को लिखे अपने पत्र में प्रधानमंत्री मोदी को संबोधित करते हुए कहा है कि वक्फ  बोर्ड को मिले 5 एकड़ जमीन पर मस्जिद के जगह राजा दशरथ के नाम पर अस्पताल का निर्माण कराया जाए। उनके मुताबिक  मस्जिद का निर्माण किसी के दिए गए या फिर जबरदस्ती हासिल की गई भूमि पर नहीं होता। उन्होंने लिखा है कि यदि लोग यह मानते हैं कि अयोध्या में राम मंदिर तोड़कर मस्जिद का निर्माण हुआ था तो बता दें कि मुस्लिम कभी किसी अवैध भूमि पर मस्जिद का निर्माण नहीं करते। इसी कारण वक्फ  बोर्ड को दिए गए भूमि पर अस्पताल का निर्माण हो।

 

  • मेरी जमीन पर मस्जिद बने

मशहूर शायर मुनव्वर राणा ने अपने पत्र में  लिखा है कि ‘मैं चाहता हूं कि बाबरी मस्जिद का निर्माण मुसलमानों की अपनी निजी भूमि पर किया जाए। उनके मुताबिक रायबरेली में सई नदी के किनारे जो साढ़े पांच बीघा जमीन उनके बेटे के नाम पर है, वहाँ बाबरी मस्जिद का निर्माण हो।

 

  • न्यायिक फैसले से नाराजगी

मुनव्वर राणा ने अयोध्या में राम मंदिर पर सर्वोच्च न्यायालय द्वारा दिए गए फैसले पर संदेह जताते हुए अपनी बात जाहिर की। उन्होंने कहा कि विवाद में फैसला तो आया पर न्याय नहीं मिला। हालांकि सुप्रीम कोर्ट के फैसले को मानना मजबूरी है।

साहित्य अकादमी पुरस्कार से सम्मानित मशहूर शायर मुन्नवर राणा ने कहा कि हम शायर रहे हैं और शायरों की तरह ही अयोध्या को देखा है, पर मस्जिद के लिए दिए गए जमीन को नामंजूर करते हैं क्योंकि मुसलमान किसी के दिए गए जमीन पर मस्जिद नहीं बनाते।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here