मुंगेर घटना के बाद एसपी लिपि सिंह और डीएम पर क्या कार्यवाई हुई?

बीते सोमवार को बिहार के मुंगेर जिले में मूर्ति विसर्जन के दौरान गोलीबारी और पथराव हुए जिसमे एक युवक की गोली लगने से जान चली गई।जिसके विरोध में शहर में तोड़फोड़, पथराव और कई जगह आग लगा कर पुलिस का विरोध किया गया। विरोध में कई पुलिस थानों और पुलिस की गाड़ियों में आग लगा दी गई। लोगों ने एसपी लिपि सिंह के कार्यालय में भी तोड़ फोड़ की, एसडीओ आवास में भी जमकर तोड़फोड़ हुई।
इन सारी घटनाओं को देखते हुए चुनाव आयोग ने मुंगेर के एसपी लिपि सिंह और डीएम राजेश मीणा के तबादले के आदेश दिए। बता दें, एसपी और डीएम के तबादले हो चुके हैं।

क्यों हो रहा है एसपी लिपि सिंह का विरोध? 
एसपी लिपि सिंह जदयू नेता और राज्यसभा सांसद आरसीपी सिंह की बेटी हैं। चुकी चुनाव का समय है तो लिपि सिंह पर सरकार को बचाने के आरोप लगाए जा रहे हैं। एसपी लिपि सिंह को सोशल मीडिया पर जनरल डायर से भी तुलना की जा रही है। एक स्थानीय निवासी के अनुसार, यह घटना पुलिस की जिद्द की वजह से घटी। एसपी के तरफ से दुर्गा प्रतिमा विसर्जन नवमी की रात में विसर्जित करने का दवाब था जबकि पूजा समिति के लोग दशहरे के दिन मूर्ति विसर्जन की जिद्द पर अड़े थे। चुकी, सालों से यही परम्परा चली आ रही है, इसी बात को लेकर दशहरे के दिन विसर्जन के दौरान बाटा चौक पर पुलिस और लोगों के बीच भिड़ंत हो गई, और दोनों तरफ से फायरिंग हुई, जिसमें पूजा समिति के अध्यक्ष के भांजे की गोली लगने से जान चली गई।

इस मामले में सीआईएसएफ रिपोर्ट के अनुसार पुलिस से भारी चूक हुई थी। रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस कि तरफ से पहले हवाई फायरिंग कि गई थी जिसके वजह से भीड़ भड़क गई और लोग पत्थरबाजी करने लगे।
मुंगेर में हुई इन हिंसक घटनाओं को देखते हुए चुनाव आयोग ने दूसरे चरण (3 नवंबर) के मतदान को लेकर मुंगेर से सटे आस-पास के जिलों में कड़ी सुरक्षा के आदेश दिए थे। साथ ही इन जिलों में विशेष पुलिस फोर्स की तैनाती करने और संबंधित अधिकारियों को अलर्ट पे रहने के आदेश दिए गए थे।

वहीं निर्वाचन आयोग के प्रमुख अधिकारी संजय कुमार सिंह ने बताया था कि मुंगेर की स्थिति अब काबू में है। सभी अधिकारी वहां काम कर रहे है। नए एसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो और जिलाधिकारी रचना पाटिल ने मुंगेर जिले के कार्यभार को सम्भाल लिया है।

– ऋतु कुमारी की रिपोर्ट

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here